बैंक मैनेजर कैसे बने ?बैंक मैनेजर बनने की योग्यता और सैलरी

बैंक मैनेजर कैसे बने ?इसकी योग्यता एवं सैलरी कितनी होती है:  आज के समय में हर युवा बैंकिंग के क्षेत्र में जाने का ज्यादा दिलचस्पी रखते हैं और बैंक संबंधित हर कार्य को करना चाहते हैं। क्योंकि इस क्षेत्र में युवाओं का भविष्य बनाने का सुनहरा अवसर मिल जाता है। आप लोग भी बैंक मैनेजर के रूप में अपना करियर बना सकते हैं।बैंक मैनेजर कैसे बने ?बैंक मैनेजर बनने की योग्यता और सैलरी

अब के समय में बैंक का नौकरी (job)के लिए बड़े पदों को देखा जा रहा है इसमें आपका वेतन भी अच्छा मिलता है और समाज में  लोगों द्वारा आपको अच्छे नजर से देखा जाता है और आपकी प्रशंसा की जाती है।  इसलिए अधिकांश युवा बैंक में नौकरी करने के लिए चाहत रखते हैं। बैंक मैनेजर कैसे बने? इसके बारे में पूरा विस्तार से मैं आपको बताने जा रहा हूं।

आज के समय में युवाओ को नौकरी के लिए या छोटे बड़े कामों के लिए कंपटीशन बहुत ज्यादा हो गई है।  आज के समय में सरकारी नौकरी भी नहीं बल्कि प्राइवेट नौकरी पाने के लिए भी बहुत संघर्ष मेहनत करना पड़ रहा है।

ऐसे में आपको बैंक मैनेजर का नौकरी पाना इतना आसान नहीं है। अगर आप बैंक मैनेजर का नौकरी पाना चाहते हैं तो आपको दिन रात एक कर के बहुत मेहनत करनी पड़ेगी तब जाकर बैंक मैनेजर के पद पा सकते हैं।

कई छात्र बहुत मेहनत करने के बाद भी असफल हो जाते हैं इसका कारण यह है कि उचित मार्गदर्शन एवं पूरी जानकारी का अभाव होने के कारण एवं  घर की आर्थिक स्थिति सही नहीं होने के कारण असफलता का सामना करना पड़ता।

बैंक मैनेजर का काम क्या होता है ? 

बैंक मैनेजर बैंक का सबसे बड़ा अधिकारी होता है  इनका मुख्य काम बैंक का देखभाल करना होता है इसलिए बैंक मैनेजर को कार्यवाहक भी कहा जाता है। बैंक मैनेजर को शाखा के प्रमुख भी कहते हैं जो बैंक के सबसे हेड(head) यानी ऊंचे पद पर होते हैं।

बैंक मैनेजर किस प्रकार से बनते हैं? 

अगर आपको बैंक मैनेजर बनना है तो आप तय करें कि आप सरकारी बैंक में बैंक मैनेजर का नौकरी करना चाहते हैं या प्राइवेट बैंक की ओर से बैंक मैनेजर का नौकरी करना चाहते हैं क्योंकि दोनों बैंक में बैंक मैनेजर बनने की प्रक्रिया अलग-अलग होती है।

अगर आप सरकारी बैंक में बैंक मैनेजर का नौकरी करना चाहते हैं तो आपको दिन रात एक कर के बहुत कड़ी मेहनत करना पड़ेगा। अगर आप मेहनत करके सरकारी बैंक मे बैंक मैनेजर का नौकरी पाते हैं तो प्राइवेट बैंक के तुलना में बैंक प्रबंधक के रूप में आपको वेतन अधिक मिलता है।

सरकारी बैंक मैनेजर: 

अगर आप भी सरकारी बैंक में मैनेजर  बनना चाहते हैं तो IBPS PO Exam को पास करना होगा अगर आप इस परीक्षा को पास कर लेते हैं तो आप लगभग का सभी सरकारी बैंक में बैंक मैनेजर के नौकरी के लिए आवेदन करके अपना भविष्य बना सकते हैं IBPS  का फुल फॉर्म institute of banking personnel selection  होता है।

प्राइवेट बैंक मैनेजर: 

अगर आप प्राइवेट बैंक में बैंक मैनेजर नौकरी पाना चाहते हैं तो आपको PO का Exam देना होगा।PO का फुल फॉर्म  probationary officer( प्रमाणीकरण अधिकारी) का यह परीक्षा पास करने के बाद आप किसी भी प्राइवेट बैंक में सिलेक्शन हो जाते हैं। फिर उसके बाद आपको सहायक प्रबंधक के रूप मे प्रोमोट किया जाता है फिर उसके बाद बैंक मैनेजर के  पद पर आप काम कर सकते हैं।


बैंक मैनेजर बनने के लिए योग्यताएं(Eligibility for Bank Manager):

बैंक मैनेजर बनने के लिए योग्यताएं एवं प्रक्रिया सभी सरकारी एवं प्राइवेट बैंकों में अलग-अलग होती है। इसलिए आप सबसे पहले तय करे कि हमें किस बैंक में नौकरी करनी है और आप जिस बैंक में नौकरी करना चाहते हैं वहां के बैंक संबंधी सारी जानकारी एवं बायोडाटा का निर्णय वहाँ पर रहने वाले लोगों से कर ले।

बैंक मैनेजर के रूप मे कैरियर बनाने वाले उम्मीदवारों को वित्तीय संस्थान द्वारा कुछ बैंक संबंधित जानकारियां एवं पूरी बायोडाटा की जानकारी देने जा रहे हैं।

 

  •  बैंक संबंधित नौकरी के लिए उम्मीदवार को भारत को नागरिक होना चाहिए।
  •   बैंक मैनेजर बनने के लिए उम्मीदवार को 12 वीं पास  होने के साथ-साथ ग्रेजुएट होना भी आवश्यक है।
  •   बैंक में नौकरी के लिए आवेदन करने के लिए आपका आयु 18 से 30 वर्ष के बीच होना चाहिए।
  •   एक सरकारी बैंक का प्रबंधक बनने के लिए आपको IBPS के परीक्षा आपको अच्छे से पास करना होगा।
  •   अगर आप प्राइवेट बैंक में नौकरी करना चाहते हैं तो आपको PO की परीक्षा को उत्तर करना होगा।
  •   बैंक मैनेजर बनने के लिए उम्मीदवारों को कंप्यूटर कोर्स का ज्ञान होना अति आवश्यक हैं।
हमारे द्वारा बताए गए योग्यताएं आपके पास है तो आप बैंक में नौकरी करने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

इन विषयों से पढ़ाई करके आप बैंक मैनेजर बन सकते हैं। बैंक में नौकरी करने के लिए आपको 12वीं पास होना आवश्यक है। बैंक में नौकरी करने के लिए आप किसी भी स्ट्रीम से 12वीं पास कर सकते हैं फिर आपको कॉमर्स सब्जेक्ट लेकर ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त करनी होगी इसके साथ ही साथ कंप्यूटर कोर्स का ज्ञान एवं पूरी जानकारी होना आवश्यक है।

लिखित परीक्षा: अगर आप सरकारी बैंक में नौकरी करना चाहते हैं तो आपको लिखित परीक्षा को पास करना होगा। इस परीक्षा के लिए उम्मीदवारों को सामान्य ज्ञान, करंट अफेयर्स,सामान्य गणित, अंग्रेजी इन विषयों से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं। लिखित परीक्षा में आपको 100 प्रश्न होते हैं जिसमें आपको एक घंटा का समय दिया जाता है।

लिखित परीक्षा हो जाने के बाद आपको एक मुख्य परीक्षा को भी पास करना होता है।

मुख्य परीक्षा: बैंक में आप जो PO की परीक्षा देते हैं वह मुख्य परीक्षा का दूसरा चरण होता है। जोकि लिखित परीक्षा के तुलना में काफी कठिन होता है। इस परीक्षा के लिए उम्मीदवार को जनरल नॉलेज, करंट अफेयर्स, इंग्लिश, मैथ एवं लॉजिक प्रश्नों का हल करना होता है।

मैं आपको बता दूं कि मुख परीक्षा देने में माइनस मार्किंग भी होती है यानी उम्मीदवार को प्रश्नों का नकारात्मक उत्तर देने से कुछ अंग काट दिए जाते हैं।

प्रशिक्षण:  उम्मीदवार को बैंक का पीओ परीक्षा पास करने के बाद 1 से 2 साल तक परीक्षण दिया जाता है यह परीक्षण बैंक से संबंधित होता है। परीक्षण पूरा हो जाने के बाद उम्मीदवार को PO यानी प्रमाणीकरण अधिकारी के रूप में चुना जाता है।

मैं आपको बता दूं कि सीधे आप बैंक मैनेजर नहीं बन सकते हैं। आपको सबसे पहले छोटे पद पर 1 से 2 साल तक काम कराया जाता है अगर आप उस काम को बढ़िया से करते हैं तो आपको तीसरे साल में पदोन्नति के रूप में सहायक प्रबंधक का पद मिल जाता है।

 

बैंक मैनेजर का वेतन( Salary of Bank Manager):

अगर आप किसी बैंक में शुरुआत में PO के पद पर  कार्य करते हैं तो आपको 20 से 25 हजार वेतन मिलता है। अगर आप बैंक मैनेजर के पद पर कार्य करते हैं तो आपका वेतन 80 हजार से लेकर 1 लाख रुपये के बीच हो सकती है।

हालांकि प्रत्येक राज्य के अलग-अलग बैंकों में अलग-अलग वेतन प्रदान किया जाता है  किंतु प्राइवेट बैंक की तुलना में सरकारी बैंक का वेतन बहुत अधिक होता है। इसके अलावा बैंक कर्मचारी को हर सुविधा उपलब्ध कराई जाती है जैसे महंगाई भत्ता एवं रहने के लिए फ्री आवास  दिया जाता है।

You Can Read also:

एलएलबी कोर्स(LLB Course) क्या है और कैसे करें? पूरा जानकारी हिंदी में

B.Com Ke Baad Konsa Course Kare?(बी.कॉम के बाद कौनसा कोर्स करे?)

Leave a Comment

Your email address will not be published.

x